विविध

अंक - 76 (19 अप्रैल 2016)

अंक - 76 (19 अप्रैल 2016) चइता विशेषांक कऽ रचना सूची

संपादकीय

चइता नाही बसे अब गाँव में

लेख

चइता चित्त से जोड़ेला - केशव मोहन पाण्डेय 
परेम आ विरह के निशानी अउरी नयका साल के आगमन के तयारी ह चइता - जलज कुमार अनुपम
आम के बउर आ गुरचरा नीयन चइत - परिचय दास‏
लोक जीवन आ सामाजिक सरोकार में अमृत घोरत चइता गीत - जनकदेव जनक
आइल चइत उतपतिया हो रामा - प्रो अभिषेक भोजपुरिया
समय के धुर में भुलाइल में चइता - डॉ० उमेशजी ओझा
भोजपुरिया समाज में चइत महिना - जयशंकर प्रसाद द्विवेदी
चइता कहीं भा चइतावर - अशोक कुशवाहा

चइत में हियरा - विजय मिश्रा 'बाबा'

चइती

संस्मरण

2 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत अच्छा अंक संयोजन बा। अगर यह पत्रिका क ऑफ़ लाइन अंक आवत होखे ता हम पढल चाहब। ई बतावल जाय कि ई कईसे मिल सकेला ?

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. रउआँ के अंक पसन परल ई खुशी के बात बा। पत्रिका अभी खाली ऑन लाइने परकासित होले अउरी एके रउआँ हर मंगर के पढ़ि सकेनी एही जगह। जबो प्रिंट में आई रउआँ के सूचना चहुँप जाई।

      हटाएं

मैना: भोजपुरी साहित्य क उड़ान (Maina Bhojpuri Magazine) Designed by Templateism.com Copyright © 2014

मैना: भोजपुरी लोकसाहित्य Copyright © 2014. Bim के थीम चित्र. Blogger द्वारा संचालित.