एइसन दुनिया एइसन लोग - मोती बी.ए.

एइसन दुनिया एइसन लोग
रामजी बनवले रहें ना।

भरल रहे राम नदिया में पानी
बनल रहे गोरी तोहरी जवानी
पानी में मछरिया हाथ में फँसरिया
रामजी बनवले रहें ना।
एइसन दुनिया...

बँसुरी बजावे पनघटवाँ सँवरिया
बहकि बहकि जाए गोरी के नजरिया
कूँआँ में गगरिया हाथ में रसरिया
रामजी बनवले रहें ना।
एइसन दुनिया...

चिरई ले आवे राम चुनि चुनि दाना
उड़ि उड़ि फुदुकि फुदुकि गावे गाना
खेतवा में दनवाँ फेड़ में खतोनवाँ
रामजी बनवले रहें ना।
एइसन दुनिया...

हँसति रहे राम दियना में बाती
पिया बिनु जियरा जरे दिन राती
गोरी के गवनवाँ पिया के भवनवाँ
रामजी बनवले रहें ना।
एइसन दुनिया...
---------------------------------------
मोती बी.ए.

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

मैना: भोजपुरी साहित्य क उड़ान (Maina Bhojpuri Magazine) Designed by Templateism.com Copyright © 2014

मैना: भोजपुरी लोकसाहित्य Copyright © 2014. Bim के थीम चित्र. Blogger द्वारा संचालित.