हमरो तोहके ईद मुबारक - सत्यनारायण मिश्र ‘सत्तन'

हमरो तोहके ईद मुबारक
ओनतिस दिन के कइन तपस्या
तन तापन ताकीद मोबारक।

अधिए राति जगावत सेहरी
बीतल पगत पगावत सेहरी
अफतारी पर जेवना जुबरी
असकत झोरि भगावत सेहरी
दिन थकहरल राति ना पवलस
निखरहरे के नींद मोबारक।
---------------------------------------------------
सत्यनारायण मिश्र ‘सत्तन'

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

मैना: भोजपुरी साहित्य क उड़ान (Maina Bhojpuri Magazine) Designed by Templateism.com Copyright © 2014

मैना: भोजपुरी लोकसाहित्य Copyright © 2014. Bim के थीम चित्र. Blogger द्वारा संचालित.