मैना: वर्ष - 2 अंक - 37

अंक के रचनाकार अउरी रचना (मैना: वर्ष - 2 अंक - 37)

कइसे कटी जीवन - सुनील चौरसिया "सावन"
जतावल भी जरूरी बा - डॅा० जौहर शफियाबादी
जेठ कऽ दुपहरी - अभिषेक यादव
भोजपुरी अउरी आठवी अनुसूची में शामिल भइला से पहिले के काम
अबहू कुहुकिएके बोले ले कोइलिया - मनोरंजन प्रसाद सिंह
सपना सुहाना टूट गइल - मृत्युंजय अश्रुज
मैना: वर्ष - 2 अंक - 37 (21 जुलाई 2015)

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

मैना: भोजपुरी साहित्य क उड़ान (Maina Bhojpuri Magazine) Designed by Templateism.com Copyright © 2014

मैना: भोजपुरी लोकसाहित्य Copyright © 2014. Bim के थीम चित्र. Blogger द्वारा संचालित.