गर्मी के छुट्टी - निशा राय

शुरू भइल गर्मी के छुट्टी,
मत करिहा पुस्तक से कुट्टी।

सूरज के विकराल रूप से,
बचके रहिहा कड़ा धूप से।

रोज पाठ दुहरावत रहिहा,
खीरा-ककरी खावत रहिहा।

मामा-मौसी के घर जइहा
नाना-नानी से मिल अइहा।

काम समय पर पूरा करिहा,
मैडम के दुलरुआ रहिहा।

एक जुलाई भूल ना जइहा
बन ठन के तू पढ़े अइहा।
बन ठन के तू पढ़े आइहा॥
-------------------------------------------------------
 Bhojpuri Sahitya, Bhojpuri Literature, Bhojpuri Sahityakosh, Bhojpuri Magazine, भोजपुरी पत्रिका, Nisha Raiलेखक परिचय:-
नाम: श्रीमती निशा राय
पता: रामअवध नगर
पो.-जंगल चौरी,खोराबार
जि.- गोरखपुर,पिन-273010
उत्तरप्रदेश
मो न.: 8542898686
mail-rainisha29.nr@gmail.com

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

मैना: भोजपुरी साहित्य क उड़ान (Maina Bhojpuri Magazine) Designed by Templateism.com Copyright © 2014

मैना: भोजपुरी लोकसाहित्य Copyright © 2014. Bim के थीम चित्र. Blogger द्वारा संचालित.